• Hemant Kumar

COVID-19: सूरत से लौटे प्रवासी श्रमिकों को बीइंग भगीरथ ने कराया जलपान व भोजन


मानव सेवा को माधव सेवा मान कर लाॅकडाउन में निरंतर सेवा कार्यो में जुटी बीइंग भगीरथ टीम मंगलवार देर रात तक ट्रेनों से हरिद्वार पहुंचे उत्तराखण्ड के प्रवासी श्रमिकों को जलपान व फलाहार वितरित किया। जलपान व फलाहार वितरण के अलावा प्रशासन का सहयोग करते हुए ट्रेन से आने वाले श्रमिकों के हाथों को सेनेटाइज भी किया।

बीइंग भगीरथ के संयोजक शिखर पालीवाल ने कहा कि टीम के सदस्य लाॅकडाउन में दिनरात सेवा कार्य कर रहे हैं। विभिन्न प्रदेशों से लौट रहे प्रवासी श्रमिकों को जलपान, फलाहार व भोजन भी वितरित किया गया जा रहा है। अपनी जान की परवाह किए बगैर पूरे तन मन धन के साथ बीइंग भगीरथ की ऊर्जावान टीम जरूरतमंदों को अपनी सेवाएं उपलब्ध करा रही है।

गरीब, असहाय, निर्धन, निराश्रितों को भोजन के पैकेट वितरित किए जा रहे हैं। प्रतिदिन दो हजार भोजन पैकेट पंचपुरी के विभिन्न क्षेत्रों में पहुंचाए जा रहे हैं। शासन व प्रशासन के साथ टीम के सदस्य कोरोना वारियर के रूप में कंधे से कंधा मिलाकर सहयोग कर रहे हैं।

शिखर पालीवाल ने कहा कि जरूरतमंदों की सेवा करना ईश्वर भक्ति के समान है। संकट की इस घड़ी में सेवा के कार्यो से ही बीइंग भगीरथ की टीम के सदस्यों को हर किसी की सराहना मिल रही है। अंकित व अतुल ने रेलवे स्टेशन पर सूरत से पहुंचे प्रवासी श्रमिकों को उनके उत्तम स्वास्थ्य की कामना करते हुए सरकार का यह प्रयास अवश्य ही प्रवासियों के लिए सुखद संदेश है। उनकी घर वापसी का इंतजार परिवार वाले भी बेसब्री से कर रहे हैं। उन्होंने शासन प्रशासन का व्यवस्थाओं को लेकर आभार प्रकट किया।

6 views

Subscribe to Our Newsletter

  • Facebook
  • Twitter
  • Instagram