• Kanika Chauhan

महिने के 15 हजार कमाने वाला अब कमा रहा करोड़


देश के किसान खेती से परेशान हैं, तो दूसरी तरफ दूसरे लोग खेती-बाड़ी से जुड़कर कमाई के नये रास्ते ढूंढ रहे हैं। किसानों की बेहतर उपज के लिए अच्छे बीज की जरुरतों को देखते हुए महाराष्ट्र के पुणे में रहने वाले अजिंक्य अपनी नौकरी छोड़ कर अपने बिजनेस की शुरूआत की।


अजिंक्य ने नौकरी छोड़ कर सीड ट्रे का बिजनेस शुरू किया है। उनके बिजनेस की सफलता का अंदाजा आप इस बात से लगाया जा सकता है कि महज 4 साल में ही उन्होंने 1.25 करोड़ की कंपनी कड़ी कर दी है। कभी 15 हजार रूपए महीने कमान वाले अजिंक्य ज हर महिने दो लाख रूपए से ज्यादा कमा रहे हैं। 


अजिंक्य बताते हैं कि वो हॉर्टिकल्चर में एमएससी करने के बाद बंगलुरु की एक कंपनी में नौकरी करते थे, जो सीड ट्रे मैन्युफैक्चर करती थी। उसी दौरान उन्हें इस बारे में बहुत कुछ सीखने का मौका मिला। तब उन्हें अपना बिजनेस आइडिया आया और फिर सरकार द्वारा चलाए जा रहे प्रोग्राम एग्री क्लिनिक एंड एग्री बिजनेस सेंटर्स में दो महीने की ट्रेनिंग ली।


सीड ट्रे की खासियत यह होती है कि इसमें पौधे की ग्रोथ अच्छी होती है। सीड ट्रे में बीज को प्लांट करने के बाद पौधे जल्दी विकसित हो जाते हैं, फिर इसे खेतों में ट्रांसप्लांट करने में आसानी होती है। इसे ना तो तेज धूप और ना ही बारिश में बीज के नष्ट होने का खतरा होता है। सीड ट्रे में तैयार किए हुए पौधे की जड़ मजबूत मानी जाती है, साथ ही उपज बेहतर होती है।


सीड ट्रे मैन्युफैक्चरिंग यूनिट लगाने के लिए उन्होंने तीस लाख रुपये का निवेश किया। जिसमें 15 लाख रुपये बैंक ऑफ महाराष्ट्र से उन्होंने कर्ज लिया। जिस पर नाबार्ड से 36 फीसदी की सब्सिडी मिली। बाकी की रकम उन्होंने खुद ही निवेश किया, फिर धीरे-धीरे उनके मेहनत रंग लाने लगी, और उनका बिजनेस बढने लगा।


लोगों में जागरुकता बढ़ने की वजह से अजिंक्य का बिजनेस तेजी से बढ़ने लगा, उनकी कंपनी दो तरह की सीड ट्रे का निर्माण करती है, जिसे दोबारा उपयोग किया जा सकता है, उन्होंने साल 2014 में सीड ट्रे बनाने की यूनिट लगाई थी, अब इसका सलाना टर्नओवर 1.25 करोड़ रुपये तक पहुंच गया है।


अजिंक्य के अनुसार उन्हें करीब 20 फीसदी का प्रॉफिट मिल जाता है, यानी सलाना 1.25 करोड़ रुपये के टर्नओवर में 25 लाख रुपया मुनाफा होता है, इस हिसाब से हर महीने करीब उनकी दो लाख रुपये की कमाई हो जाती है। इसके साथ ही उनके काम में अभी भी ग्रोथ दिख रहा है।


अजिंक्य नेचर केयर देश में महाराष्ट्र के अलावा एमपी, गुजरात, छत्तीसगढ और बंगलुरु में सीड ट्रे का बिजनेस कर रहे हैं, इसके साथ ही केन्या, जमैका और दक्षिण अफ्रीका में सीड ट्रे का एक्सपोर्ट करते हैं, जैसे-जैसे लोगों में जागरुकता बढ रही है, ये बिजनेस भी बढ़ता जा रहा है।

4 views

Subscribe to Our Newsletter

  • Facebook
  • Twitter
  • Instagram