• Kanika Chauhan

साइकिल की सवारी से हाथी को हुआ नुकसान? मायावती उप चुनाव लड़ने को तैयार

यूपी में एसपी बीएसपी गठबंधन करारी हार के बाद आरोप-प्रत्यारोप पर आकर थम गया है। साइकिल और हाथी साथ-साथ लोकसभा चुनाव 2019 में यूपी पर बहुमत साबित करने के लिए एकजुट हुए थे लेकिन यूपी की कुल 80 सीटों में एसपी बीएसपी गठबंधन नहीं चला और महज 15 सीटें ही मिल सकी, गौरतलब है कि इन 15 सीटों में 10 बीएसपी की है और बची 5 एसपी ने अपने खाते पर डाली।

बीते सोमवार को  बीएसपी की समीक्षा बैठक में मायावती ने संकेत दिया कि वह इस करारी हार के लिए साइकिल पर सवारी को दोष देंगी उन्होंने इशारों इशारों में एसपी को गठबंधन की नाकाम कोशिश बताया और आगामी उपचुनाव विधानसभा सीटों के लिए यूपी की 11 सीटें बीएसपी अकेले ले आएगी का दावा भी किया, यही नहीं मायावती ने आगे से कभी भी साइकिल की सवारी ना करने का निश्चय भी किया।

सूत्रों के मुताबिक एसपी बीएसपी गठबंधन को मायावती ने महज एक भूल बताया उन्होंनेे अपनी हार का ठीकरा एसपी नेता अखिलेश यादव पर फोड़ते हुए कहा कि ,उन्हें एसपी से खास फायदा नहीं हुआ अखिलेश अपने यादव वोट तक ट्रांसफर नहीं कर पाए ।अखिलेश और एसपी ने ईमानदारी कोशिश की थी लेकिन भितरघात ने दिक्कतें कर दी।

मायावती ने हाल के लिए शिवपाल यादव और कांग्रेस को भी जिम्मेदार ठहराया बीएसटी सुप्रीम ने पार्टी नेताओं से कहा कि अब अकेले दम पर संगठन को मजबूती दी जाएगी। चुनाव में अखिलेश ने संदेश दिया था कि मायावती पीएम पर और वह यूपी की राजनीति से  लीड करेंगे । लेकिन सपा अध्यक्ष अखिलेश यादव पूरी ताकत झोंकने के बावजूद जहां कन्नौज में पत्नी डिंपल यादव को नहीं जिता पाए तो फीरोजाबाद और बदायूं में सांसद रहे उनके दोनों चचेरे भाई अक्षय यादव और धर्मेंद्र यादव भी अपनी सीट हार बैठे। सूत्रों का कहना है कि मायावती अब शायद खुद ही यूपी के सीएम कैंडिडेट के रूप में अपना स्वरूप स्थापित करेंगे।

समझा जाता है कि मायावती ने लोकसभा चुनाव में कुछ विधायकों के सांसद बनने के कारण रिक्त हुई विधानसभा सीटों पर आने वाले दिनों में होने वाले उपचुनाव भी अपने बलबूते लड़ने का पार्टी नेताओं को निर्देश दिया है। उन्होंने इस बाबत पार्टी पदाधिकारियों से उपचुनाव की तैयारियों में जुट जाने के लिए कहा। बसपा आमतौर पर उपचुनाव से दूर रहती रही है। इसलिए मायावती के निर्देश को उनी नई रणनीति से जोड़कर देखा जा रहा है।

#slider

0 views

Subscribe to Our Newsletter

  • Facebook
  • Twitter
  • Instagram