• Kanika Chauhan

सफाई कर्मचारियों की सुविधा के लिए आगे आए समाजसेवी शिखर पालीवाल

Updated: May 6

समाजसेवी व गंगा एक्टिविस्ट शिखर पालीवाल ने सफाईकर्मियों की सुविधा के लिए 100 जोड़ी गमबूट नगर निगम प्रशासन को भेंट किए हैं। शिखर पालीवाल ने बताया कि बरसात के मौसम में नगर निगम के नाला गैंग के सफाई कर्मचारियों को नालों की सफाई करने में भारी दिक्कतों का सामना करना पड़ता है। कर्मचारियों की परेशानी को देखते हुए गुणवत्ता युक्त 100 जोड़ी गमबूट नगर निगम के अधिकारियों को सौंपे गए हैं। जिससे सफाई कर्मचारियों के समक्ष आ रही परेशानियां दूर हो सकेंगी।

शिखर पालीवाल ने कहा कि कई क्षेत्रों में नाले आड़े तिरछे हैं। बड़े गंदे नालों में सफाई कर्मचारियों को नाले के अंदर उतरकर सफाई करनी पड़ती है। पैरो में में जूते नहीं होने के कारण नालों की सफाई ठीक से नहीं हो पाती है। शिखर पालीवाल ने कहा कि सफाई कर्मचारियों की सुविधाओं को ध्यान में रखते हुए नगर निगम प्रशासन को गमबूट उपलब्ध कराए गए हैं। उन्होंने कहा कि सफाई कार्य में प्रयुक्त होने वाले आवश्यक उपकरण उपलब्ध होने पर कर्मचारियों की कार्यकुशलता बढ़ेगी और इसका लाभ शहर की जनता को प्राप्त होगा।

गंदे नालों में कई बार तो सांप बिच्छू व अजगर तक निकल आते हैं। ऐसे में नाले घुसने वाले सफाई कर्मचारियों को संसाधन उपलब्ध कराना भी समाजसेवा से कम नहीं है। उन्होंने अधिकारियों से भी अपील की कि नगर निगम के वार्डों में सफाई कर्मचारियांे की सुविधा के लिए संसाधन उपलब्ध कराए जाएं। जिससे सफाई कर्मचारियों की परेशानियां दूर हो सकें। अपर मुख्य नगर अधिकारी नपुर वर्मा ने कहा कि सफाई कर्मचारियों की सुविधा के लिए समाजसेवी शिखर पालीवाल द्वारा गमबूट जैसे संसाधन उपलब्ध कराना सराहनीय है।

शहर की सेवा करने वाले सफाई कर्मचारियों की सुविधा का सभी को ध्यान रखना चाहिए। अन्य संस्थाओं को भी इसके लिए आगे आना चाहिए। उन्होंने कहा कि शिखर पालीवाल द्वारा स्वयं गमबूट उपलब्ध कराने का आग्रह किया गया था। कर्मचारियों की सुविधा के लिए उनका आग्रह स्वीकार किया गया है।

सहयोगी शिवम् अरोरा व जितेंद्र चौहान ने कहा की सफ़ाई कर्मचारी सही मायनों मे समाज सुधारक हैं और हमारे पढ़े लिखे होने का कोई फ़ायदा नहीं यदि हमारे द्वारा रोज़ इधर उधर खुले में कुड़ा फैंका जाता हो ।उन्होंने कहा शिखर पालिवाल द्वारा उठाया गया यह क़दम सराहनीय है ।

#slider

0 views

Subscribe to Our Newsletter

  • Facebook
  • Twitter
  • Instagram